‘घूँघट में घोटाला’ भोजपुरी फिल्म का गाना तरकुल पे चढ़लबा जवानी आलोक कुमार और शरोदी बोरह ने गाया है, जबकि गाने के बोल आजाद सिंह ने लिखे है और संगीत मधुकर आनंद व रजनीश मिश्रा ने दिया है। फिल्म के निर्माता दिनेश लाल यादव “निरहुआ”हैं। भोजपुरी फिल्म का यह गाना प्रवेश लाल यादव और मणि भट्टाचार्या व ऋचा दीक्षित पर फिल्माया गया हैं।

गौरी अपने बलम को दूध का गिलास पीला रही हैं और जम्प लगाकर पिया सेज पर अपनी गौरी के पास आ रहा हैं। सजनी की चढ़ती जवानी को देखकर पिया का मिजाज गड़बड़ा रहा हैं और उसका अब अपने आप पर काबू नहीं हैं। खूंटी पर वो अपने सारे कपडे टाक रहा है और अपनी गौरी को बांहो में कसकर उसके होठो से होठ मिला रहा हैं।

Tarkul Pe Chadhal Ba Jawani Song Lyrics

दुधवा के गिलासवा पिलो मोरे राजा
जम्प लगाके तनी सेजिया पे आजा
बहिया में लगे तोहर प्यार
एहो रानी अबना मानी तरकुल पे चढ़ल बा जवानी

पजामा में आजा उतार दी सैया तोहके तार दी
धीर धार कुरु ता पजामा सही हारली
खूंटी पे ले जाकर टांक दो लुंगी कमर में बाँध लो
पावर में बानी रानी पहले से जानलो
एहो रानी अबना मानी तरकुल पे चढ़ल बा जवानी

अन्य भोजपुरी गाने :