“रंग चुअता पिचकारी से” भोजपुरी एल्बम का रंग जाई देवरु भितरिया, जो की एक मजेदार सॉन्ग हैं, इसमे आवाज प्रमोद प्रेमी यादवसाक्षी शिवानी ने दी हैं। गाने के बोल अरुण बिहारी ने तैयार किए हैं जबकि म्यूज़िक शंकर राज ने दिया हैं। ऋषि राज ने गाने का निर्देशन किया हैं।

होली के मौके पर देवर अपनी भाभी के बदन को पिचकर से गिला कर दिया हैं और उसके गोरे गोरे गालो पर रंग गुलाल लगा रहा हैं। देवर की इन हरकतों को देखकर भाभी बहुत डर लग रहा हैं और बार बार भाभी उससे दूर जा रही हैं। लेकिन देवर भी होली के मौके पर अपनी भाभी को रंगो से रंग देता हैं।

Rang Jayi Na Devaru Bhitariya Song Lyrics

छोटे बाबे तोहार पिचकारियां रंग जाई ना देवरु भितरिया
काहे जीद कइले बाड़ा भतरु के भाई हो
बाटे वादा भैया से ज्यादा मजा मिली भउजाई हो

डर लागे छूके दहिया छोड़ देबा हाथे
रातभर सूती आजी भउजी तोहरा साथे
डास दबा काड़ा रंगवा साया पच आई हो
बाटे वादा भैया से ज्यादा मजा मिली भउजाई हो

डाले दोही जब होइ दहिया कोरब मन हो
होली में चोली खोलके रंग देब खजाना हो
कइसे तू नकता बोते बातें गहराई हो
बाटे वादा भैया से ज्यादा मजा मिली भउजाई हो

गाल पे लगाके प्रमोद श्रद्धा पुराला
लहंगा के ऊपर भाउजी साडिया उठालो
अरुण बिहारी नीरज जई हां खिसी आई हो
बाटे वादा भैया से ज्यादा मजा मिली भउजाई हो

अन्य भोजपुरी गाने :