Monday, June 24, 2024
HomeGossipभोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री खतरे में

भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री खतरे में

Bhojpuri Stars

सूत्रों की माने तो एक बड़ी खबर सामने आ रही हैं की पिछले कुछ वर्षों की अपेक्षा वर्तमान में भोजपुरी सितारों का क्रेज़ बड़ी तेजी से गिर रहा हैं। उदाहरण के तौर पर कहा जाए तो बिहार में कभी निरहुआ की फिल्में डेढ़-डेढ़ करोड़ का बिजनेस करती थीं लेकिन आज मात्र 40 से 50 लाख की कमाई कर रही है। साल में सिर्फ एक या दो फिल्में ही हिट होती है बाकी सब फ़्लाफ़ हो रही है। अब कई स्टारो की फिल्में तो कमीशन पर रिलीज हो रही है।

देखा जाये तो इस वजह का एक बड़ा कारण ये भी हो सकता हैं की ज्यादातर निर्माता फिल्मो में एक अभिनेता के साथ बार-बार एक ही एक्ट्रेस का चयन करते हैं। जैसे- पवन सिंह के साथ अक्षरा सिंह, खेसारी लाल यादव के साथ काजल राघवानी, दिनेश लाल यादव के साथ आम्रपाली दुबे। एक ही हीरोइन के साथ काम करने से सेटअप घिसापिटा लगता है, क्योंकि स्टोरी में कोई नयापन नही होता और इसे देख पब्लिक ऊबने लगती है। आज भोजपुरी सिनेमा को अच्छे मेकर की शख्त जरूरत है जो अपने हिसाब से फ़िल्म बनाये।

दिनेश लाल यादव ‘निरहुआ’ की जो फिल्में कभी 15 लाख का व्यवसाय करती थीं अब 5 से 7 लाख रुपये तक ही जा रही हैं। वहीं पवन सिंह और खेसारी लाल यादव की जो फिल्मे पहले 8 से 10 लाख रुपये का व्यवसाय करती थीं वे अब 2 से 3 लाख रुपये में जा रही हैं। साथ ही मुम्बई में दिनेश लाल यादव निरहुआ की फिल्में 40 से 45 लाख का व्यवसाय करती थीं। अब ये सपना सा लगने लगा हैं। इस समय भोजपुरी फिल्म इंडस्ट्री खतरे में दिखाई दे रही हैं और जल्द ही इस विषय पर फिल्म मेकर्स को शख्त से शख्त कार्यवाही करनी चाहिए।

RELATED ARTICLES
- Advertisment -

Most Popular

- Advertisment -