भोजपुरी गीत नईहर में जब कुवार रहलू में आवाज समर सिंह, आकांशा राय और सुरभी सिंह ने दी। जबकि गाने के बोल टुनटुन यादव, कुशाल कवि, सोनू सरगम और हरिंद्र हरियाली ने लिखे हैं। इस गीत का म्यूजिक राजा भट्टाचार्य व असलम मिर्जापुरी ने कंपोज किया हैं।

छठी मैया जगत की कल्याणकारी हैं और अपनी कृपा हमेशा भक्तो पर बनाये रखती हैं। छठी मैया का व्रत खास होता हैं और व्रत रखने पर भक्तो के सारे काम सिद्ध हो जाते हैं। माता के घाट पर भक्त दीपक जलाते हैं और मैया पूजा करते हैं।

Naihar Mein Jab Kuwar Rahalu Song Lyrics

नया नोहर बानी हां लेके अब हिकनिया
ससुरा में कइसे कही बुझे ना हमर परेशानिया
नईहर में जब कुवार रहलू छठ के मनावा त्यौहार रहलू
देवेले अर्ग तो ये याद रहेलू छठ के मनावा त्यौहार रहलू

छठी माई के होव व्रत खास हो
दोई दिन रखिया उपवास हो
मम्मी के साथे जाई छठी घाट जी
घी के दियनवा जराई सारी रात जी
आरी की जब मंनवा बाटे तोहरो असिया पुजईया
देबू जब अर्गईया होइ हैं छठी मैया
कहिय से करब इंतजार रहलू
देवेले अर्ग तो ये याद रहेलू छठ के मनावा त्यौहार रहलू \

फैन फलहरी सब गउरा सजाके
नाची के छठी घर ठुमका लगाके
घूम धड़ाके से पूजे सब लोग हो
मील के बाटी आई अबके संजोग हो

अन्य भोजपुरी गाने :