होली में घरे भतार नइखे भोजपुरी गीत में आवाज मनोज कुमार मस्ताना ने दी। जबकि गाने के बोल एस.के सागर ने लिखे हैं। भोजपुरी एल्बम “गालिया पे लिखे दा हैप्पी होली” का विडियो गीत टीम फिल्म्स की ओर से प्रस्तुत हैं। इस गीत का म्यूजिक शिव मनमोही ने कंपोज किया हैं।

फागुन का महीना आने पर गौरी अपने पिया के बिना नहीं रह पा रही हैं और पिया के बिना अब उसका मन लग रहा हैं। होली के मौके पर गौरी अपने पिया को घर वापस बुला रही हैं। पिया के ना होने पर गौरी सोलह श्रृंगार किसको करके दिखाये और वो अपने मन का हाल किसको बताये।

Holi Mein Ghare Bhatar Naikhe Song Lyrics

सैया बाजे घरे उ काटे काटी जानी
हमरा से पूछा कइसे होली में रहा तानी
ओ मनवा लगावेके जोगार नइखे
होली में घरे भतार नइखे

Advertisement

कइके श्रृंगार सखी कीकरा के दिखाई
चढ़ल जवानी के केकरा पे लुटाईप
होली के दिन सैया के बीन कोई सेरा होव अकेला
साच कहिले मन में भावे रंग बिरखे खेला
ओ पियवा के मन में विचार नइखे
फगुवा में घरे भतार नइखे

कब मोहरे खिसके कोई आवे रुवाई
मनवा के हाल केकरा से बताई
कितनो धीर भरले बाकी होते नइखे सबर
मन करे के मनोज के बा ना ली
हो सागर के आवे के नसार नइखे
होली में घरे भतार नइखे

अन्य भोजपुरी गाने :