“नथुनिया ले अईहs ए राजा जी” भोजपुरी एल्बम का गाना कइसन उनकर मंन प्रमोद प्रेमी यादव ने गाया है, जबकि गाने के बोल अरुण बिहारी ने लिखे है और संगीत शंकर सिंह ने दिया है। इस गाने को देखने के लिए वीडियो क्लिक करे।

अपने पति के रातभर घर में नहीं आने पर पत्नी को चिंता सताये जा रही हैं। उसने अपने कमरे के दरवाजे रातभर बंद नहीं किये। सजके सवर उसके इन्तजार में रातभर तक जागती रही हैं।

Kaisan Unkar Man Song Lyrics

रहे जे उठारी के बिने किवाड़ी के कइनी ना रातभर बंद
तो रतिया नाही आईले बलमुआ कइसन उनकर मन x2

Advertisement

(सेजिया पे बैठल रहनी सजके सवर के
सैया उतर ना मोहर नथईया नईहर के) x2
सथल न खाती पहले ही राती जुआ गइले झर झर
तो रतिया नाही आईले बलमुआ कइसन उनकर मन x2

(दियाना भुताईल रातभर रह गईनी जागल
दो दिन के हारल थकल निंदिया ना लागल ) x2
सोलह शृंगार करके रहनी बत्तीसों
तो रतिया नाही आईले बलमुआ कइसन उनकर मनx2

अन्य भोजपुरी गाने भी देखे :